मंगलवार, 11 मार्च 2014

कीमत

गुणो के पारखी को ही पता होती है कि
सद गुणो की कीमत क्या है?
सज्जनो को ही पता होती है
कि संस्कारो कि कीमत क्या है?
व्यापारी को ही पता होती है
व्यवहार और विश्वसनीयता कि कीमत क्या है?
ज्ञानी की कीमत क्या है?
यह शिक्षित समाज ही जानता है
मूर्ख कहा विद्वता कि पहचान कर पाता है
भोजन कि कीमत सिर्फ भूख ही तो कर पाती है
रेगिस्तान से पूछो कि
 प्यास किसे कहते है?
प्यासे रह कर
 भीषण गर्म लू को लोग कैसे सहते है?
ईमानदारी कि कीमत बेईमान को पता नहीं होती 
ईमानदार ही बता सकता है कि 
ईमानदारी कायम रखने कि कीमत क्या है 
क्योकि उसने ईमानदारी कायम रखने कि कीमत समाज 
परिवार ,परिवेश ,में जो चुकाई है 
बेईमान मानसिकता को पराजित करने के लिए 
जीवन में पग -पग पर कई चोटे जो खाई है 
प्यार कि कीमत क्या और कितनी होती है 
उस व्यक्ति से पूछो जिसने जीवन में ईर्ष्या और
और अपमानो को झेला है 
प्यार का सरोवर कितना मीठा है 
घृणा से लथ -पथ जीवन कितना मैला है
 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें