मंगलवार, 17 मार्च 2020

कोरोना

विश्व कोरोना से लड़ाई  लड़ने का 
दम्भ भर रहा है 
दवाई की कंपनीयो  मुनाफा बढ़ रहा है
 बाकी सभी का शेयर सूचकांक  घट रहा है 
कोरोना का रोना अब सरकारे मीडिया 
और इंश्योरेंस कंपनिया रो रही है 
सेनेटाइजर उत्पादक की हो गई पौ बारह 
नई नई प्रयोगशालाएं खुल रही है
विमानन कंपनियों की हालत 
जो पहले से बिगड़ी हुई है 
अब तो तीर्थो में भी रही न भीड़ 
सिर्फ कोरोना की ही चर्चा  
चेनलो पर छिड़ी हुई है 
बाजार माल और सड़कों का भी हाल 
नही किसी से छुपा  है ।
चीन से आयातित माल का 
स्टॉक भी रुका  है 
बीमारी कोई भी ईलाज नही होने पर 
इंसान की मृत्यु तो होनी ही है
पर कोरोना संक्रमित व्यक्ति  की कलाई 
किसी भी हालात में नही छूनी है 
विदेश जाने का मोह भी अब नही रहा है 
अपने ही गांव में रहो ,मिली साफ हवा 
खेतो में शुध्द जल बहा है 
कोरोना रोगी की पीड़ा 
अब  सही नही जाती है
अकेले ही पड़े रहो ,पड़े पड़े सड़े रहो 
 अब तो आइसोलेशन वार्ड ही साथी है

1 टिप्पणी: